मनोरंजन

माता पिता के एक बुरे और डरावने सपने जैसी है अवार्ड विनिंग फिल्म पीहू की कहानी

Film Pihu Movie Review and Critics

डर क्या होता है और किस तरह का होता है ये आपको फिल्म पीहू का ट्रेलर देखकर समझ आ जाएगा। अपने आज तक कई सारी हॉरर मूवी देखी होगी लेकिन पीहू का ट्रेलर आपको उससे भी ज्यादा डरावना है और वो डर है उस दो साल की बच्ची का जिसे फिल्म के हर सीन में देखकर लगता है कि उसे कही कुछ हो न जाए।

सच्ची घटना पर बेस्ड पीहू एक अपार्टमेंट में अकेले फसी दो साल की लड़की के बारे में है।Pihu Movie Review

सच्ची कहानी के आधार पर यह एक भावनात्मक रूप से प्रेजेंट की गई थ्रिलर फिल्म है। 2 मिनट के ट्रेलर में आपको केवल 2 साल की छोटी बच्ची ही नजर आती है और उसके पीछे सुनाई देने वाला डरावना बैक ग्राउंड म्यूजिक।

अवार्ड विनिंग फिल्म पीहू

रोनी स्क्रूवाला और सिद्धार्थ रॉय कपूर के बैनर आरएसवीपी और रॉय कपूर फिल्म्स के तले बनी। इस फिल्म को राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता निदेशक विनोद कपरी द्वारा निर्देशित किया गया है। ये एक ऐसी फिल्म हैं जो हर माता-पिता को रात में जागने के लिए मजबूर कर देगी है। फिल्म में मेसेज भी है कि वर्तमान समय में पति-पत्नी के बीच की दुरी कैसे उनके बच्चो के लिए श्राप बन सकती है।

जर्नालिस्ट से निर्देशक बने विनोद कापरी 2014 में अपनी डॉक्यूमेंट्री “कैन टेक दिस शिट एनीमोर” के लिए नेशनल अवार्ड जीत चुके है और इससे पहले 2015 में आई “मिस टनकपुर हाजिर हो ” से अपना बॉलीवुड डेब्यू कर चुके है। ये उनकी दूसरी फिल्म है जो काफी समय पहले बन चुकी है लेकिन कुछ कारणों से रिलीज़ नहीं हो पाई।

इस फिल्म को रिलीज़ से पहले है विभिन्न अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोहों में प्रशंसा मिल चुकी है।

इसे वैंकूवर, पाम स्प्रिंग्स, ईरान, मोरक्को और जर्मन फिल्म फेस्टिवल में आधिकारिक तौर पर बेस्ट फिल्म के लिए नॉमिनेशन मिला है। मोरक्को में ‘सर्वश्रेष्ठ फिल्म’ पुरस्कार जीत चुकी है।

फिल्म 16 नवंबर 2018 को रिलीज होने वाली है।

 

विज्ञापन