ट्रेवल

भारत के ये 7 असामान्य मंदिर जिनके पीछे की कहानियाँ है कुछ खास

भारत अपनी संस्कृति और धार्मिक महत्व के लिए जाना जाता है और इन सब में मंदिरो का एक मंदिरो का विशेष महत्त्व है जो हमारे धार्मिक अनुष्ठानो को पूरा करने में मदद करते है। वैसे तो  हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, कुल 33 करोड़ देवी -देवता हैं, जिनकी  भारत में पूजा की जाती है। इनमें से प्रत्येक पूजनीय देवताओं और देवियों के महत्व की अपनी ही एक कहानी है।

हालांकि, उन 33 करोड़ देवी  देवताओं के अलावा, भारत में कई अजीब या अद्वितीय मंदिर भी हैं जिनके पीछे एक खास कहानी हैं। जानते है ऐसे ही सात मंदिरो के बारे में। 

सोनिया गांधी मंदिर

Interesting facts about Sonia Gandhi Temple Telangana

source 

खास और चर्चित हस्तियों के लिए स्मारक बनाना और रोड पर नाम रखना तो आम बात है लेकिन क्या हो जब ऐसी किसी हस्ती पर मंदिर बना हो और वहा रोज उनकी पूजा भी होती हो ? खैर, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी को समर्पित एक मंदिर हैजो की तेलंगाना में स्थित, यह मंदिर सोनिया गांधी का सम्मान देने के लिए बनाया गया है क्योंकि वह उन प्रमुख सदस्यों में से एक थी जिन्होंने तेलंगाना राज्य बनाने में मदद की थी। सोनिया गांधी की एक बड़ी मूर्ति के अलावा, इस मंदिर में गांधी परिवार के अन्य सदस्यों जैसे इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और अन्य की तस्वीरें भी शामिल हैं। 

ओम बन्ना

Facts Om Banna Temple Rajasthan

source

इस मंदिर ‘रॉयल ​​एनफील्ड’ बाइक की देवताके रूप में  पूजा की जाती है। राजस्थान के जोधपुर के पास स्थित, ओम बन्ना मंदिर में बाइक की पूजा करने के  पीछे एक अजीब कहानी है। वर्ष 1 9 88 में, ओम सिंह राठौर, जिन्हें ओम बन्ना के नाम से जाना जाता था, रॉयल एनफील्ड की सवारी करते हुए दुर्घटना के शिकार हो गए और मौके पर उनकी मृत्यु हो गई। बाद में जब पुलिस आई और तो उन्होंने बाइक को जाँच पड़ताल के लिए कब्जे में ले लिया। लेकिन, आश्चर्य की बात यह थी कि अगली सुबह पुलिस स्टेशन से बाइक गायब हो गई ।

जब हर किसी ने इसकी खोज शुरू कर की, तो ये रॉयल एनफील्ड उसी जगह मिली जहा दुर्घटना स्थल पर ही मिली। पुलिस ने इसे लॉक करने की कोशिश की, पेट्रोल टैंक खाली कर दिया, लेकिन सभी प्रयासों के बावजूद बाइक दुर्घटना स्थल पर पहुंच जाती(या किसी का सड़यंत्र कारी दिमाग था )। इस तरह की एक अजीब घटना को देखने के बाद, ग्रामीणों का मानना ​​था कि ओम बन्ना की आत्मा बाइक में है और उस दुर्घटना स्थल पर एक मंदिर का निर्माण किया गया।


चाइनीस काली टेम्पल 

Kolkata ke Chinese Kali Mandir ke Interesting Facts

source

जिस धर्म को लोगो को बाटने का कारण माना जाता है और दुनिया में हमेशा इन कारणों से अशांति फैली रहती है ऐसी सोच को जबाब देने के लिए कोलकाता, पश्चिम बंगाल में एक छोटा सा मंदिर है जो साबित करता है कि धर्म किसी भी प्रकार की बाधा नहीं है और सिर्फ सोच का फर्क ही इंसान में फर्क पैदा करता है

 चूँकि देवी काली एक हिंदू देवी है, लेकिन कोलकाता में चीनी काली मंदिर चीनी अनुष्ठानों के लिए दैवी की पूजा कर सकता है। इस मंदिर में, चीनी पुजारी प्रसाद के तौर पर नूडल्स चढ़ाते(नूडल्स को प्रसाद के रूप में अपने कभी नहीं खाया होगा) है। इसलिए अगली बार जब आप कोलकाता जाएंगे, तो अपनी जर्नी लिस्ट में इस मंदिर को जरूर जोड़े।


मंकी टेम्पल

source 

भारत में मंदिरो के आस पास बंदरो का घूमना आम है लेकिन गल्टा में स्थित ये मंदिर , जो जयपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर परिसर है का नाम यहाँ पर बंदरो की तादात को देखते हुए “मंकी टेम्पल” ही रख दिया गया और मंदिर में इन बंदरों की पूजा भी की जाती है। इन बंदरो को भगवान हनुमान का ही रूप माना जाता है।


कर्ण माता मंदिर

source 

बीकानेर में स्थित, कर्ण माता मंदिर को ‘चट्टानों का मंदिर’ या ‘चुहा देवी का मंदिर’ भी कहा जाता है। इस मंदिर में हजारो की संख्या में चूहे हैं जो मंदिर में चढ़ने वाला प्रसाद खा कर खूब फल फूल रहे है। यह मंदिर पूरे साल हजारों पर्यटकों को आकर्षित करता है जो कर्ण माता से आशीर्वाद लेने के लिए यहां आते हैं। यदि भक्त भाग्यशाली हैं, तो वे मंदिर के अंदर एक या दो दुर्लभ सफेद चूहों को भी देख सकते हैं।

ऐसा माना जाता है कि लक्ष्मण जो कर्ण माता का सौतेले पुत्र थे , पानी पीने के प्रयास में कपिल सरोवर में डूब गए। इस घटना के बाद, कर्ण माता ने मृत्यु के भगवान से पूछा, यम से लक्ष्मण को पुनर्जीवित करने के लिए कहा । प्रारंभ में, यम ने ऐसा करने से इनकार कर दिया, लेकिन बाद में उन्होंने अनुमति दी कि लक्षमण सहित कर्ण माता के सभी बच्चों के साथ चूहों के रूप में पैदा होंगे।


काल भैरव मंदिर

source 
उज्जैन में स्थित कल भैरव मंदिर, असामान्य मंदिरों की इस सूची में भी शामिल है क्योंकि यह शराब को भगवान शिव प्रसाद के रुप में चढाई जाती है। हजारों भक्त जो इस मंदिर में जाते हैं वो भगवान शिव को शराब के लीटर प्रदान करते हैं(अब इन्हे पीता कौन है ये तो रहश्य है ) ताकि वे आशीर्वाद प्राप्त कर सकें।राज्य सरकारे शराब के ठेको को बंद करने की योजना बना रही है लेकिन सिंहस्थ मेले के समय, सरकार ने मंदिर के पास अल्कोहल काउंटर लगाने का फैसला लिया था। खैर, तो आपको ऐसे किसी अनुभव के लिए इस मंदिर में एक बार तो जाना चाहिए।


भारत माता मंदिर

source 

हमने अक्सर भारत देश को भारत माता के रूप में व्यक्त करने वाले लोगों को सुना है, जिसका अर्थ है मदर इंडिया। लेकिन, क्या आपने कभी भारत माता को समर्पित मंदिर के बारे में सुना है? वाराणसी में एक भारत माता मंदिर है जहाँ भारत माता की मूर्ति  की पूजा की जाती है। इसे देश में एकमात्र ऐसा मंदिर माना जाता है। मंदिर में  संगमरमर से बना इंडिया का एक विशाल मैप भी देखा जा सकता है जिसे  1 9 36 में बनाया गया, मंदिर का उद्घाटन महात्मा गांधी ने किया था।


अगर छुट्टियों में घूमने का प्लान बनाते है और किसी मंदिर जाना पसंद करते है तो इंडिया के अनगिनत मंदिरो को देखने से अच्छा कि इन विशेष मंदिरो को देखना जाया जाए जो आपको आशीर्वाद(अगर आपका भगवान और इंसान में आस्था रखते है ) के साथ साथ कुछ अलग अनुभव भी देंगे

विज्ञापन