fbpx
लाइफ स्टाइल

इस स्वतंत्रता दिवस इन अलग अलग राज्यों की फेमस डिश के साथ कर सकते है सेलिब्रेट

इस बात  से इनकार नहीं किया सकता कि भारतीय भोजन इसकी संस्कृति और जीवनशैली जितनी  विशाल है उतनी और किसी देश की नहीं हमारे यहां राज्यों की सीमा बदलते ही हमारे भोजन का स्वाद बदल जाता है लेकिन भारतीयों स्वाद के ये पकवान अपने क्षेत्रों के साथ-साथ अपनी विशेषताओं की वजह से पुरे देश और विदेशो तक में फेमस है। ऐसे ही कुछ चुनिंदा व्यंजन जो हमारे देश के अलग अलग राज्यों और संस्कृति की पहचान बने हुए है और ज़्यदातर भारतीयों के लिए , उत्सवों पर बनने वाले उनके स्वादिष्ठ व्यजन


मॉदूर पुलाव (कश्मीर)

madur pulav kashmir

कश्मीर घाटी में प्रसिद्ध ये स्वादिष्ट सुगंधित चावल पकवान, मॉडुर पुलाव स्वाद में मीठा होता है, और इसे अपने  रंग, जो की हमारे तिरंगे में सबसे ऊपर वाले केशरिया रंग के कारण सम्मानित भी किया गया है । आम पुलाव से हट कर इसमें कई प्रकार के मसालों, मेवाओं का मिश्रण, काफी मात्रा में घी , और सेब, अनार और अनानास जैसे फल मौजूद होते है। इसे पनीर मसाला ग्रेवी और टैंगी भारतीय अचार के साथ भी सर्व किया जाता है।


मोदक (महाराष्ट्र)

modak -Most Famous Dish during Celebration in India - Hindi Food Guide

मोडक महाराष्ट्र का लोकप्रिय भारतीय मिठाई पकवान है।तिब्बत की फेमस डिश मोमोज़ भी इन्ही से इंस्पायर है। अपने शानदार बनावट और अंदर नारियल और गुड़ का मिश्रण भरा ये मोदक  , गणेश चतुर्थी के दौरान भगवान गणेश को मुख्य रूप से प्रसाद के रूप में चढ़ाया जाता है। इसे तला हुआ या भाप के साथ उबला जाता है  लेकिन ज्यादातर लोग इसे घी में गर्म करना पसंद करते हैक्योकि शुद्ध घी की खुसबू से इसका स्वाद और ज्यादा बढ़ जाता है।


मुरुक्कु (तमिलनाडु और केरल)

Murukku -Indian Festival Dishes - Hindi Guide

चाय के साथ स्नैक्स के तौर पर मुरुक्कू खाना सर्वश्रेष्ठ माना जाता है, मुरुक्कू चावल के आटे और उरद दाल के आटे से बनता  है। यह दक्षिण भारतीय व्यंजनो का एक अभिन्न हिस्सा है,जलेबी जैसी दिखने वाली इस डिश को कोई भी आसानी से बड़ी मात्रा में बना सकता है और इंस्टेड  स्नैक तौर पर इसका आनंद ले सकता है।


नारिकोल (असम)

Narikol - Indian Celebration Dishes - Hindi Guide

नारियल का हिंदुओं के लिए सांस्कृतिक और पारम्परिक महत्व वाला फल है और वास्तव में ये कई मात्रा में पौष्टिक भी हैं और यदि इनसे कोई बेहतरीन मिठाई बनाई जा सके तो इससे ज्यादा अच्छी बात और कोई नहीं हो सकती। नारियल से बनी ऐसी ही एक मिठाई है नारिकॉल जो  लड्डुओं पर नारियल के बुरादे को लपेटकर बनाई जाती है और असम की सबसे मशहूर मिठाइओ में से एक है और विशेष रूप से असम के एक मुख्य फेस्टिवल बिहू के दौरान काफी देखी जाती है। इसे एक सप्ताह से भी अधिक समय तक ख़राब होने से बचाया जा सकता है यदि सुखी और पूरी तरह पैक कंटेनर में रखा जाए तो।


सरसों दा साग (पंजाब और हरियाणा)

sarso da saag

पंजाब और हरियाणा का फेमस सरसों  दा साग सरसों (सरसन) और कई शानदार मसालों से बनाया जाता हैं। तैयार साग को पारंपरिक तौर  पर मक्के की रोटी के साथ परोसा जाता है और ठंडी लस्सी का गिलास इस शानदार , शाकाहारी और पेट भरकर खाई जाने वाले पकवान को पूरा करती है।


मैसूर पाक (कर्नाटक)

मैसूर पाक एक दक्षिण भारतीय मिठाई है जो चीनी, घी, सुगंधित इलायची, और ग्राम आटा की एक तय मात्रा के साथ तैयार की जाती है। यह पहली बार मैसूर पैलेस की रॉयल रसोई में तैयार की गई थी और उस तारीख से इसे , दक्षिण में मिठाई का राजा माना जाता है।


रोसोगुल्ला (पश्चिम बंगाल)

पश्चिम बंगाल और ओडिशा के बीच रोसोगुल्ला पर अपना दावा है अब ज्यादा सुनाई नहीं देता क्योकि स्पंजी, मीठी  और स्वादिष्ट मिठाई जो कि है हर पूर्वी भारतीय उत्सव होती ही है और अब ज्यादातर भारतीयों के उत्सव में भी।रसगुल्ले का नाम भर ही हमारे मुँह में पानी ले आता है।  इसे कई राज्यों में अलग अलग फ्लेवर, आकर और  सजावट के साथ बनाया जाता है लेकिन बिना इसके स्पॉन्जी गुण को बिगाड़े।


घेवर (राजस्थान)

राजस्थानी व्यंजन को अपने स्वादिष्ट व्यंजन और रसीला मिठाई के लिए जाना जाता है और घेवर इनमे सबसे ऊपर स्थान रखता है। डिस्क के आकार का केक, मावा, घी और मालाई घेवर के साथ बनाया जाता है।


 

विज्ञापन